नेताजी सुभाष चंद्र बोस के पोते चंद्रकुमार बोस को अपने कार्यलय के लिए नहीं मिल रहा है मकान :


  1. बंगाल में चुनाव हो रहा है और इस चुनाव में ममता बनर्जी के विरुद्ध भाजपा नें नेता जी सुभाष चंद्र बोस के पोते चंद्र कुमार बोस को मैदान में उतारा है जो भवानीपुर सीट से लड़ रहे हैं। चुनाव प्रचार के संचालन के लिए उन्हे एक मकान चाहिए किंतु आलम यह है कि उन्हे कार्यलय के लिए मकान नही मिल रहा है। उनके कार्यकर्ताओं ने भवानीपुर की गलियों को छान मारा किंतु कोई उन्हे कार्यलय के लिए किराये पर मकान नहीं दे रहा है। सच्चाई यह नही है कि लोग मकान देना नहीं चाह रहे हैं; ब्लकि सच्चाई यह है कि तृणमुल काँग्रेस के गुंडो के डर से कोई यह जोखिम उठा नहीं रहा है। पूछने पर वें लोग साफ कह रहे हैं कि तृणमूल कार्यकर्ता ने हमें भाजपा का झंडा टांगने के लिए और मकान देने के लिए मना कर रखा है; यदि मैं मकान दे देता हूं ,तो वें लोग चुनाव के बाद मेरा पानी और बिजली का लाइन काट देंगे या मारेंगे तो क्या आप हमको बचाने आएंगें ?आप लोग थोड़ा सोचिए यह राजनीति की कौन सी श्रेणी में आता है ? यह कैसा लोकतंत्र है कि एक मुख्यमंत्री के विरुद्ध खड़ा होने पर प्रतिद्वंधिओं को मकान तक देने नही दिया जाता है। वह भी एक महान देशभक्त के प्रपौत्र को...


https://www.facebook.com/yogendra.tyagi.79?fref=nf